भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत की सर्जरी हुई है। जानकारों के मुताबिक, उन्हें खेल में वापसी करने में 6 से 9 महीने लग सकते हैं।

यानी वह इस साल के आईपीएल सीजन में खेलते नजर नहीं आएंगे। हालांकि, उन्हें पूरा वेतन मिलेगा। दिल्ली कैपिटल्स ने पंत को 16 करोड़ रुपए में रिटेन किया था।

और अगर वह आईपीएल में नहीं खेलते हैं तो भी उन्हें पूरी रकम मिलेगी, हालांकि यह रकम फ्रेंचाइजी नहीं बल्कि बीसीसीआई देगी।

पंत को बीसीसीआई की सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट ए में रखा गया है। इस लिस्ट में शामिल खिलाड़ियों को 5 करोड़ रुपए मिलते हैं।

इस राशि के साथ ही बीसीसीआई उन्हें आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स से नॉन-प्लेइंग सैलरी भी देगा, क्योंकि बीसीसीआई सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल सभी खिलाड़ियों का बीमा करता है।

बीसीसीआई के नियमों के मुताबिक चोट के कारण आईपीएल से हटने की स्थिति में इन खिलाड़ियों को बोर्ड द्वारा पूरा भुगतान किया जाता है। न कि आईपीएल टिन द्वारा। बीमा कंपनी बोर्ड को भुगतान करती है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दीपक चाहर के आईपीएल में नहीं खेलने के बावजूद बीसीसीआई ने 2022 में आईपीएल से बकाया राशि का भुगतान किया।

दीपक चाहर IPL2022 में चेन्नई सुपर किंग्स टीम के सदस्य थे। उन्हें चेन्नई ने 14 करोड़ में खरीदा। लेकिन आईपीएल शुरू होने से पहले ही वह चोटिल हो गए।

आईपीएल सीजन शुरू होने से पहले टीम के कैंप में शामिल होने पर खिलाड़ियों को उनकी अनुबंध राशि का 50 प्रतिशत भुगतान करता है।

आधा मैच खेलने के बाद बची हुई राशि का 30 प्रतिशत उन्हें देना होता है। शेष 20 प्रतिशत का भुगतान आईपीएल टीम के खिलाड़ी द्वारा आपसी समझ के आधार पर मैच पूरा होने पर या उससे पहले किया जाता है।