भारत हॉकी विश्व कप में पदक की दौड़ से बाहर हो गया है। रविवार को खेले गए क्रॉसओवर मैच में न्यूजीलैंड ने पेनल्टी शूटआउट में भारत को 4-5 से हरा दिया।

इससे पहले दोनों टीमें निर्धारित समय तक 3-3 से बराबरी पर थी। भारत के लिए अनुभवी ललित उपाध्याय ने 17वें मिनट में फील्ड गोल किया।

फिर 24वें मिनट में सुखजीत ने पेनल्टी कार्नर पर गोल करके मेजबान टीम को 2-0 की बढ़त दिला दी। मैच के 28वें मिनट में थोड़ी देर बाद

जिसके बाद 43वें मिनट में केन रसेल ने पेनल्टी पर गोल कर स्कोर 3-2 कर दिया. फिर 49वें मिनट में केन रसेल ने अपना दूसरा और टीम का तीसरा गोल कर स्कोर बराबर किया।

दोनों टीमों ने 9-9 प्रयास किए। जिसमें न्यूजीलैंड ने 5 और भारत ने 4 गोल किए। शूटआउट की शुरुआत भारतीय कप्तान हरमनप्रीत के गोल से हुई।

जिसके बाद न्यूजीलैंड के निक वुड ने बराबरी का गोल किया। इसके बाद राजकुमार पाल ने गोल कर भारत को 2-1 की बढ़त दिला दी।

सीन फाइंडले ने इसके बाद स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया। तीसरे प्रयास में अभिषेक गोल करने से चूक गए और हेडन फिलिप्स ने गोल कर कीवी टीम को 3-2 से आगे कर दिया।

फिर पीआर श्रीजेश ने 3 शानदार बचाव कर भारत को हार से बचाया। इस बीच शमशेर गोल करने से चूके और सुखजीत ने गोल किया।

5 प्रयासों के बाद स्कोर 3-3 से बराबर हो गया। इस तरह पेनल्टी शूटआउट जारी रहा। और भारत हारकर हॉकी से बाहर हो गया।